• Uncategorized
  • 0

Metaverse Kya Hai – मेटावर्स के बारे में सब कुछ

मेटावर्स क्या है

मेटावर्स एक वर्चुल दुनिया है जहॉं पर आपको एक  अलग ही  प्रकार का  अनुभव होने वाला है  वैसे तो  ये एक कम्‍प्‍यूटर के द्वारा तैयार की गई  दुनिया है, लेकिन ये हुबहू असली दुनिया से भी ज्‍यादा अच्‍छी दिखाई पडती है या फिर अगर हम ये कहें कि मेटावर्स इंटरनेट का अगला दौर है तो ये गलत नहीं होगा

मेटावर्स का क्‍या अर्थ होता है

मेटा – इसका अर्थ होता है जहॉ तक आप सोच भी नहींं सकते उससे भी आगे

वर्स – इसका मतलब है यूनिवर्स जिसे हम देख रहे हैं उसके आगे की बात अगर हो जाये तो उसे मेटावर्स कहते हैं या फिर हम ये भी कह सकते हैं कि मेटावर्स एक ऐसी तकनीक है जो टेक्‍नोलॉजी की दुनिया को वर्चुअल दुनिया की तरफ ले जा रही है, जैसा कि आप लोगों ने आजकल आयरन मैन की मूविस मे की मूवी में देखा होगा कि किसी भी इन्‍सान का पूरा का पूरा चित्र ही हमारे सामने आ जाता था और फिर उन्‍हें हाथ से हटा दिया जाता है। देखा जाये तो जिस मेटावर्स की हम बात कर रहें हैं वो मेटावर्स आयरन मैन की मूवीस में हमें देखने को मिल चुका है और इसी दुनिया को हम मेटावर्स कहते हैं।

मेटावर्स की उत्‍पत्ति कब और किसने की 

Metaverse kya hai

मेटावर्स शब्‍द की उत्‍पत्ति 1992 में हुई थी और इसे बनाने वाले का नाम नील स्‍टीफेन्‍सन थे। तो जैसा कि आपको बता दें मेटावर्स की कल्‍पना सबसे पहले एक राइटर के द्वारा की गई थी

1992 के समय में यह केवल एक कल्‍पना मात्र थी, लेकिन आने वाले समय में यह हकीकत बनने वाली है

मेटावर्स का फेसबुक से संबंध

शायद आज आप में से कई लोगों ने सुना होगा कि फेसबुक के मालिक मार्क जुकरबर्ग ने फेसबुक का नाम बदलकर मेटा रख दिया है तो आप में से कई लोग ऐसे भी होगे जो इसके पीछे का कारण भी जानना चाहते होंगे कि मेटा वर्स का फेसबुक से क्‍या संबंध है ?

तो चलिए हम आपको बताते हैं कि इसके पीछेे की पूरी कहानी क्‍या है ? जैसा कि आप सभी लोग इतना तो जान ही गये होगे की मेटावर्स भविष्‍य में बहुत ही एडवास्‍ड टेक्‍नोलॉजी है और कुछ सालों में हमारी यह दुनिया एक अलग ही टेक्‍नोलाॅजी में जियेंगी इसी बजह से मार्क जुकरबर्ग ने भी समय के साथ अपने प्‍लेटफार्म फेसबुक का नाम बदलकर मेटा रख दिया है फेसबुक के मालिक मार्क जुकरबर्ग ने मेटावर्स को संभव बनाने के लिए 20 बिलियन डॉलर तक खर्च करने की बात कही है क्‍यूँकि अब वह भी जान गये है कि इस टेक्‍नोलॉजी की मदद से अच्‍छा खासा पैसा कमाया जा सकता हैा

मेटावर्स कब तक संभव होगा 

मेटावर्स हमारे जीवन में कब तक आ जायेगा यह बताना तो अभी संभव नहीं हैं, लेकिन इस बात का अंदाजा लगाया जा रहा हैै कि मेटावर्स को बनने में और आम और खास लोगों के जीवन में इसको आने में कुछ सालों का समय अभी और लग सकता है, हालाकि अभी काफी सारी जगहों पर ऑनलाइन खेले जाने वाले गेम्‍स में यह टेक्‍नोलॉजी थोडी बहुत देखने को मिल रही है

मेटावर्स के आने से बदलाव 

मेटावर्स केे आने के बाद बहुत से बदलाव आने वाले हैं जैसे कि अभी के समय में हम ऑनलाईन शॉपिग करते हैं तो हम सिर्फ चीजों की फोटो ही देख सकते हैं और इससे ज्‍यादा उसके बारे में कुछ नहीं जानते हैं, लेकिन मेटावर्स के आने के बाद हम सिर्फ उन चीजों को न सिर्फ देख सकते हैं बल्कि हम उन चीजों के पास होने का भी एहसास कर सकते हैं और उनको छू कर भी देख सकते हैं और फिर दोस्‍तो से मिलने के लिए विडियों कॉल की क्षमता कई गुना बढ जायेगी आपको यह लगेगा विडियों काॅल वाला पर्सन को आप बिल्‍कुल नजदीक महसूस करेंगे।

अगर आपको कही घूमने का मन हो तो आपको कही जाने की जरूरत नहीं पडेगी, मेटावर्स की सहायत से आपकी एक 3डी कॉपी वहाँ तक पहुँच जायेगी और आप जैसा जैसा यहॉं करेंगे वैसा वैसा वह 3डी कॉपी भी करेंगी जिससे आपको उसका रियल होने का एहसास होगा।

मेटावर्स मैरिज

कुछ टाईम पहले 6 फरवरी 2022  को इंडिया की पहली मेटावर्स शादी हो चुकी है जिसके लिए एक वर्चुअल वर्ल्‍ड भी बनाया गया था इसकी सबस खास बात यह है कि जिस लडकी की शादी हुई थी उसके पिता की मृत्‍यु हो चुकी थी।

तमिलनाडु का रहने वाला यह कपल जिन्‍होंने पहले तो तमिलनाडु के शिवलिंगपुरम गॉव में शादी की उसके बाद मेटावर्स के जरिए डिजिटल रिसेप्‍शन का आयोजन किया था। रिसेप्‍शन का आयोजन करवाने वाली आईटी फर्म को अब तक 60 से ज्‍यादा और कार्यक्रमों आर्डर देश के कई बडी शहरों से आर्डर मिल गया है, इस शादी शामिल होने वाले मेहमानों को खाना भी खिलाया गया वो भी फूड डिलीवरी कम्‍पनी की मदद से

मेटावर्स से होने वाले नुकसान

अभी तक देखा गया है जब भी कोई नई टेक्नोलॉजी आई है तो वह फायदे के साथ साथ नुकसान भी लाई है अभी कुछ टाइम पहले PUBG गेम की शुरुवात हुई थी तब हर कोई इस गेम में इस कदर को गया था की ये गेम ही उसके लिए सब कुछ है कुछ लोग तो ज्यादा गेम खेलने के कारण पागल भी हो गए थे

जैसे जैसे नई नई टेक्नोलॉजी आई है लोगो में मानसिक तनाव जैसी समस्या देखने को मिली है

 

 

 

 

 

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published.